गिरीडीह :- गर्मी के दस्तक शुरू होते ही गिरिडीह जिले के गावां प्रखंड में जल संकट गहराने लगा है। प्रखंड के ककड़ियार स्थित पछियारी टोला व ढिलुआ में पानी की समस्या को लेकर लोगों को दो चार होना पड़ रहा है और लोग नदी में चुआं खोदकर अपनी प्यास बुझा रहे हैं।

बता दें कि गावां प्रखंड के अमतरो पंचायत स्थित ककड़ियार के पछियारी टोला व ढिलुआ में पीने की पानी की भारी समस्या बनी हुई है। यहां पर महिलाएं घर से एक किमी दूर नदी में चुआं खोदकर पानी पीने पर मजबूर हैं। उक्त दोनों टोला विभागीय और जनप्रतिनिधियों के उदासीनता का दंश झेल रहा है। पछियारी टोला में मात्र एक सार्वजनिक चापानल है जो विगत छह माह से खराब पड़ा हुआ है। इससे लोगों को पीने की पानी के लिए नदी से चुआं खोदकर अपनी प्यास बुझाना पड़ रहा है। वहीं ककड़ियार से पछियारी टोला जाने के लिए पक्का सड़क भी नहीं है। लोग सिर्फ पगडंडी और कच्चे सड़क के सहारे चलने पर मजबूर है। बरसात के समय में यहां लोगों को आवाजाही में भारी फजीहत झेलनी पड़ती है।

पछियारी व ढिलुआ में अधिकांश आदिवासी परिवार के लोग निवास करते हैं। पछियारी टोला के कलवा देवी, बड़की देवी, मंगरी देवी, फागु बेसरा, डंफल बेसरा व सोमर बेसरा आदि लोगों का कहना है कि पानी की समस्या को लेकर कई बार स्थानीय मुखिया से चापाकल और सोलर जलमीनार की मांग की गई थी। लेकिन अभी तक यहां भी एक चपाकल और जलमीनार का निर्माण नहीं कराया गया है। जिससे लोगों का प्यास बुझाया जा सके। ग्रामीणों ने शीघ्र ही संबंधित विभाग व विधायक से शुद्ध पेयजलापूर्ति बहाल कराने की मांग की है। इधर, कनीय अभियंता जहेन्द्र भगत ने कहा कि उक्त टोला में शुद्ध पेयजलापूर्ति बहाल कराने को लेकर घर-घर जल व नल योजना के तहत डीपीआर तैयार कर विभाग को भेजा गया है। फिलहाल चापानल कराकर उक्त टोला में जलापूर्ति बहाल किया जाएगा।

गिरीडीह से दीपक कुमार की रिपोर्ट

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *