कटिहार :- मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सिरसा चौक के समीप पेट्रोल पंप के पास एक व्यक्ति को पहले पीट- पीटकर अधमरा करने के बाद में गाड़ी से कुचल कर हत्या कर दी गई। घटना को अंजाम देने के बाद भाग रहे अपराधियों में एक अपराधी को स्थानीय लोगों ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही मुफस्सिल थाना पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए कटिहार सदर अस्पताल भेज दिया और घटना में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी।

जानकारी के अनुसार मृतक शशि भूषण तिवारी(58) कटिहार कोर्ट में अधिवक्ता लिपिक के पद पर कार्य थे और वह करीब 1:30 बजे अपना काम खत्म कर घर पहुंचे थे। तभी शाम में 4:00 बजे एक फोन आने पर वह घर से निकलकर कर चौक पर गए। हत्यारों ने पहले शशि भूषण तिवारी को चाय पिलाई उसके बाद घात लगाए अपराधियों ने उन्हें पीट-पीटकर अधमरा कर गाड़ी से कुचल दिया।

घटना के बारे में मृतक शशि भूषण तिवारी के बेटे रविकांत तिवारी ने बताया कि वे लोग सिरसा के निवासी हैं और उनके पिताजी कटिहार कोर्ट में अधिवक्ता लिपिक थे। बेटे रविकांत ने हत्या की वजह बताते हुए कहा कि होली के दिन उनके चाचा चंद्रभूषण तिवारी के साथ विकास सिंह का विवाद हुआ था। जिसको लेकर 31 मार्च को पंचायत बिठाई गई थी। जहां पंचायत के दौरान विवाद को बढ़ता देख शशि भूषण तिवारी ने अपने भाई को पंचायत से उठाकर चले गए और बिना फैसले की पंचायत समाप्त हो गई। जिस कारण 7 अप्रैल को लगभग 4:00 बजे जैकी तिवारी और सौरभ तिवारी ने फोन कर उन्हें मिलने के लिए सिरसा चौक पेट्रोल पंप के पास बुलाया। जहां लल्लन गुप्ता, विकास सिंह, सुरेश सिंह, कालू मिश्रा, रमेश सिंह, जेपी गुप्ता, मन्नू यादव, दीपेश सिंह सहित अन्य लोग पहले से मौजूद थे। देखते ही देखते मौजूद लोगों ने लोहे के रॉड और हॉकी स्टिक से ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। जिससे पापा बुरी तरह घायल हो गए और अपनी जान बचाकर भागने लगे। इसी दरमियान मौजूद लोगों ने फोर व्हीलर से उन्हें कुचल डाला। जिससे उनकी मौके पर हीं मौत हो गई।

फिलहाल हत्या को लेकर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और छानबीन में जुट गई है।

कटीहार से मनिष कुमार की रिपोर्ट

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *