VAISHALI – बिहार विधान परिषद की 24 सीटों पर होने वाले चुनाव को लेकर सूबे के सियासी गलियारों में गहमागहमी बढ़ गई है. सभी पार्टियों ने चुनाव के बाबत तैयारी शुरू कर दी है. हालांकि, महागठबंधन और एनडीए गठबंधन में से अब तक किसी ने स्पष्ट रूप से चुनाव को लेकर कुछ नहीं कहा है. सीटों को लेकर दोनों ही गठबंधन के अंदर खींचतान जारी है. इसी सियासी गहमागहमी के बीच जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने एमएलसी चुनाव में कांग्रेस का साथ देने का एलान किया है.

कांग्रेस ने की है ये मांग

पप्पू यादव ने कहा कि हम चाहेंगे कि कांग्रेस अकेले चुनाव लड़े. लेकिन ये निर्णय तो कांग्रेस को ही करना है वे किसके साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी. मालूम हो कि सीटों को लेकर कांग्रेस और आरजेडी के बीच खींचतान जारी है. कांग्रेस ने आरजेडी के सामने सात सीटों की मांग रखी है. बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष समीर सिंह ने साफ तौर पर कहा है कि सात सीटों पर हमारे पास जीतने लायक उम्मीदवार हैं. वैसे तो हमारी 10 से 11 सीटों पर पकड़ बहुत मजबूत है, इसमें कोई संदेह नहीं है. लेकिन गठबंधन धर्म को कायम रखने के लिए हाईकमान का निर्देश होता है, तो वैसी परिस्थिति में हाईकमान की भावनाओं के अनुरूप सात सीट पर लड़ने पर भी सहमति बन सकती है. लेकिन उससे कम तो बर्दाश्त नहीं होगा.

पप्पू यादव ने उम्मीदवार का किया एलान

शुक्रवार को बिहार के वैशाली पहुंचे पप्पू यादव ने बिहार विधान परिषद चुनाव लड़ने का एलान किया. साथ ही उन्होंने उम्मीदवारों की भी घोषणा की. पप्पू यादव ने वैशाली जिले के लिए खलीक उल्लाह उर्फ झुंनू को अपना उम्मीदवार बनाया और लोगों से उनके पक्ष में मतदान करने की अपील की. वहीं, इस दौरान पप्पू यादव ने साफ-साफ कह दिया कि अगर कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ती है तो पार्टी उनके साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी और मात्र छह से आठ सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. बाकी सभी जगह वे कांग्रेस के लिए खड़े रहेंगे.

0Shares
Total Page Visits: 99 - Today Page Visits: 3

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *