PATNA – पुरी के शंकराचार्य स्वामी निश्छलानंद सरस्वती ने भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की मांग को लेकर बिहार की सियासतगर्मा गई है. बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता जहां भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने की मांग का जोरदार समर्थन कर रहे हैं. वहीं, बीजेपी की सहयोगी जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) सहित तमाम दूसरी पार्टियों ने इसका विरोध कर बीजेपी पर इस मुद्दे के बहाने सियासत करने का आरोप लगाया है. दरअसल गोवर्धन पुरी के पीठाधीश्वर स्वामी निश्छलानंद सरस्वती ने यह मांग उठाई है कि भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर देना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि अगर भारत हिंदू राष्ट्र बनता है तो विश्व के कई दूसरे देश हिंदू राष्ट्र बनाने की दिशा में आगे बढ़ेंगे.

मकर संक्रांति के मौके पर गंगासागर में शाही स्नान करने पहुंचे शंकराचार्य ने यह बातें कही. उन्होंने कहा कि 52 देशों के उच्च प्रतिनिधियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत हुई है, अगर भारत खुद को हिंदू राष्ट्र घोषित करता है तो इससे प्रेरणा लेकर कई दूसरे देश एक साल के अंदर अपने देश को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की दिशा में कदम उठाएंगे!

बीजेपी ने किया स्वामी निश्छलानंद सरस्वती की मांग का समर्थन
स्वामी निश्छलानंद सरस्वती की इस मांग पर बिहार की सियासत तब गर्मा गई जब बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने न सिर्फ इस मांग का समर्थन किया बल्कि यह तक कहा कि इस्लामिक कट्टरवाद से बचाने के लिए भारत का हिंदू राष्ट्र बनना जरूरी है. नीतीश सरकार में बीजेपी के कोटे से मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि विश्व के कई देशों में इस्लामी कट्टरवाद की वजह से समस्या बढ़ती जा रही है. हिंदुस्तान में भी कई ऐसी घटनाएं घटी हैं. स्वामी जी ने जो मांग की है वो सही है. क्योंकि हिंदू संस्कृति सबको लेकर चलती है. उन्होंने कहा कि भारत अगर हिंदू राष्ट्र बनता है तो और मजबूत होगा, साथ ही इस्लामी कट्टरवाद से मजबूती से मुकाबला भी कर सकता है.

वहीं, बिहार बीजेपी के एक और नेता और मंत्री जनक राम कहते हैं कि स्वामी निश्छलानंद सरस्वती के बात का न सिर्फ समर्थन होना चाहिए. बल्कि उन्होंने यह भी दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगुवाई में भारत हिंदू राष्ट्र बनेगा.
दरअसल ऐसे कई मौके आए हैं जब बिहार के बीजेपी नेताओं ने राज्य के कई जिलों में मुस्लिम आबादी बढ़ने को मुद्दा बनाते हुए जनसंख्या नियंत्रण की मांग उठाई है. वहीं, कई बीजेपी नेता समय-समय पर हिंदू राष्ट्र की मांग भी उठा चुके हैं. लेकिन अब पुरी के शंकराचार्य की भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने की मांग आते ही बीजेपी नेताओं ने बिना देर किए उनकी मांग का समर्थन करते हुए अपनी मांग दोहरा दी है.

सहयोगी JDU और RJD को यह मांग गुजरा नागवार
लेकिन बीजेपी की सहयोगी जेडीयू जो पहले ही सम्राट अशोक के मुद्दे पर उसके साथ आमने-सामने है, उसे पुरी के शंकराचार्य की मांग नागवार गुजरी है. वो कह रहे हैं कि भारत सेक्युलर देश है. सबका है. वहीं, राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने बीजेपी पर धर्म की सियासत करने का आरोप लगाते हुए उसपर हमला बोलने में देर नहीं की. आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि जब-जब चुनाव आता है बीजेपी की तरफ से इस तरह के मांग उठने लगती है. भारत सभी जाति-धर्म के लोगों का देश है, और यही इसकी पहचान है. इस तरह के बयान से देश की अखंडता पर असर पड़ता है.

0Shares
Total Page Visits: 106 - Today Page Visits: 3

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *