BUXAR – इस बार कोरोना के कारण श्रद्धालु मकर संक्रांति पर गंगा स्नान नहीं कर पाएंगे। बिहार के बक्सर, बेगूसराय और भोजपुर में स्थानीय प्रशासन ने गंगा स्नान पर रोक लगा दी है। जिलों में कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। जिला प्रशासन ने संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए कई जरूरी कदम उठाए हैं।

गाइडलाइन पालन के साथ सोशल डिस्टेंसिंग पर भी पैनी नजर है। मकर संक्रांति पर गंगा स्नान को बक्सर के रामरेखा घाट व बेगूसराय के सिमरिया घाट पर लाखों श्रद्धालु उमड़ते हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा होगा। भोजपुर में गंगा व सोन में स्नान और मेला-प्रदर्शनी पर डीएम ने रोक लगा दी है।

सीओ व थानाध्यक्षों को आदेश पालन कराने की जिम्मेवारी सौंपी है। नदियों में नावों का परिचालन भी नहीं होगा। सभी एसडीओ को धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू करने को कहा गया है। सभी सीओ व थानाध्यक्षों को जिम्मेवारी दी गई है कि वे गंगा व सोन नदियों के समीप मुख्य घाटों पर बैरिकेडिंग कराकर निगरानी रखेंगे ताकि भीड़ नहीं हो।

बक्सर में रामरेखाघाट व नाथ बाबा घाट समेत आठ स्थानों पर दंडाधिकारी निगरानी करेंगे। कई घाटों पर आवाजाही रोकने को बैरिकेडिंग कर पुलिस बल की तैनाती की गई है। वहीं बेगूसराय के सिमरिया घाट, मटिहानी घाट और झमटिया घाट पर सतर्कता के लिए पुलिस बल के साथ मजिस्ट्रेट की तैनाती रहेगी।

सारण में डीएम ने मकर संक्रांति पर विधि व्यवस्था बनाये रखने के लिए गाइडलाइंस जारी की है। इसके तहत गंगा स्नान व मेले पर रोक है। वहीं वैशाली में गंगा और गंडक तट पर धारा 144 लागू रहेगी। निजी नावें नहीं चलेंगी। अरवल में भी सोन नदी घटों पर पुलिस की तैनाती की गयी है।

0Shares
Total Page Visits: 45 - Today Page Visits: 3

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *