पटनाः- बिहार विधानसभा सत्र के शीतकालीन सत्र का आज चौथा दिन है। सदन के अंदर तो हंगामा जारी ही है लेकिन बाहर हर दिन बाहर भी किसी ना किसी बात को लेकर लगातार विवाद जारी है। गुरुवार को सत्र के चौथे दिन राज्य सरकार में बीजेपी कोटे से मंत्री जीवेश मिश्रा ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विधानसभा में मंत्री जीवेश मिश्रा ने पटना के डीएम और एसएसपी पर अपमान करने का आरोप लगाया है। कहा कि पटना के एसपी और डीएम की वजह से उनकी गाड़ी को विधानसभा में आने से रोका गया है।

इस दौरान जीवेश मिश्रा ने कहा कि वे अब अधिकारी के निलंबन के बाद ही सदन में जाएंगे। कहा कि एक पुलिस वाले ने गाड़ी रोकी और सामने से डीएम और एसपी की गाड़ी निकल गई। इसके बाद गुस्से में आकर जोर-जोर से चिल्लाने लगे। मीडिया से कहा कि हम सरकार हैं। एसपी और डीएम के लिए उन्हें रोक दिया गया। उन्होंने कहा कि एसपी और डीएम की गाड़ी के कारण मंत्री की गाड़ी रोकना कहां का कानून है? जब तक जिस अधिकारी ने गाड़ी रोकी है उसका सस्पेंशन नहीं होगा मैं सदन के अंदर नहीं जाऊंगा।

बता दें कि इसके पहले अभी मंगलवार को ही  आरजेडी के विधायक भाई वीरेंद्र (Bhai Virendra) और बीजेपी विधायक संजय सरावगी (Sanjay Saraogi) विधानसभा परिसर में भिड़ गए थे। गाली-गलौज तक हो गई थी। भाई वीरेंद्र ने बीजेपी विधायक संजय सरावगी के लिए मिलावटी पैदाइश जैसे शब्द का इस्तेमाल तक कर दिया था। मीडिया के बीचबचाव के बाद मामला शांत हुआ।

बिहार सरकार के मंत्री JIVESH MISHRA बमक गए पुलिस पर, कर रहे है सस्पेंशन की मांग

0Shares
Total Page Visits: 256 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *