सिवान:- सिवान के दिवंगत पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब बुधवार की देर शाम दुल्‍हन अयाशा सबीह की विदाई के लिए बरात लेकर जीरादेई के चांदपाली गांव गए। इसके पहले उनका निकाह सोमवार को ही हो चुका है। निकाह में लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव शामिल थे तो विदाई की बरात में उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने शिरकत की। तेज प्रताप सीधे दुल्‍हन के चांदपाली गांव पहुंचे, जहां भीड़ इतनी हो गई कि उन्‍हें एक कमरे में बंद करना पड़ा। दुल्‍हन लाने की इस रस्‍म को लेकर ओसामा के पैतृक गांव सिवान के प्रतापपुर से लेकर दुल्‍हन के गांव जीरादेई के चांदपाली तक जश्‍न का माहौल दिखा।

बता दें कि सिवान के तेलहट्टा स्थित मदरसा में सोमवार की शाम में ओसामा का निकाह हुआ था। उसमें बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव, अब्‍दुल बारी सिद्दीकी, बिहार सरकार के मंत्री जमा खान समेत कई गणमान्‍य लोग शामिल हुए थे। इसके पहले रविवार की रात मिलादुन्नबी का कार्यक्रम आयोजित हुआ था। बरात में पूर्व मंत्री सह सदर विधायक अवध बिहारी चौधरी, विधायक हरिशंकर यादव, बच्चा पांडेय, राजद जिलाध्यक्ष परमात्मा राम समेत कई अन्य नेता भी शामिल हुए। बरात निकलने के पूर्व पूरे दिन बरात में शामिल होने और ओसामा को बधाई देने वालों का तांता प्रतापपुर में लगा रहा।

चिकित्‍सक हैं ओसामा की बेगम गौरतलब है छोटे सरकार के नाम से मशहूर ओसामा शहाब की शादी चांदपाली के आफताब आलम की पुत्री डा. आयशा सबीह से हुई है। आयशा पेशे से चिकित्‍सक हैं। उन्‍होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की पढ़ाई की है। ओसामा की बात करें तो उन्‍हें ला की डिग्री हासिल की है। दोनों का निकाह शहाबुद्दीन ने अपने जीवनकाल में ही तय कर दिया था। ओसामा की बहन हेरा शहाब का निकाह भी 15 नवंबर को तय है। मोतिहारी के प्रतिष्ठित परिवार के डा. शादमान उनके हमसफर बनेंगे। 

बगावती तेजप्रताप का नरम हुआ तेवर, सुलह के बने आसार @dtvbharat

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *