पटना:- देश में दुर्गा पूजा की धूम है। हर जगह मां देवी की पूजा अर्चना हो रही है। आज मां के 8वें रूप यानी महागौरी की पूजा हो रही है। इस सिलसिले में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मां की भक्ति में लीन है। मौके पर पटना के अलग अलग मंदिरों में जाकर मां की पूजा अर्चना की। सबसे पहले मुख्यमंत्री ने पटना के अगमकुआं स्थित माता शीतला देवी के मन्दिर पहुंचे। वहां करीब दस मिनट तक पूजा अर्चना की।

नीतीश कुमार शीतला माता के मंदिर के बाद छोटी पटन देवी और बड़ी पटन देवी के दर्शन करने के बाद पटना सिटी के मारूफगंज स्थित बड़ी देवी के दरबार पहुंचे। वहां उन्होंने देवी की पूजा की। महाअष्टमी के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना सिटी के हाजीगंज स्थित छोटी पटनदेवी जी मंदिर पहुंचकर मां के दरबार में अपना सिर झुकाया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने पूरी आस्था के साथ मां दुर्गा की पूजा अर्चना कर सूबे में अमन चैन के लिए प्रार्थना की। इस मौके पर बिहार सरकार में मंत्री विजय चौधरी समेत कई अधिकारी भी मौजूद रहे। 

आपको बता दें कि आज नवरात्रि का आठवां दिन है और आज मां महागौरी की उपासना की जाती है। नवरात्रि के आठवें दिन मां दुर्गा के आठवें स्वरूप मां महागौरी की पूजा से असंभव भी संभव हो जाता है। भक्तों के पापों का नाश होता है।

मान्यता है कि माता के इस स्वरूप ने भगवान शिव को पाने के लिए कठोर तपस्या की थी। उनका शरीर काला पड़ गया। प्रसन्न होकर शिव ने उन्हें स्वीकार किया और उन पर गंगाजल डाला। इससे माता का शरीर कांतिवान और वर्ण गौर हो गया तब से उनका नाम गौरी हो गया।

मां महागौरी का वाहन वृषभ मतलब बैल है। उनकी एक भुजा अभयमुद्रा में है, तो दूसरी भुजा में त्रिशूल है। तीसरी भुजा में डमरू है तो चौथी भुजा में वरमुद्रा में है। इनके वस्त्र भी सफेद रंग के हैं और सभी आभूषण भी श्वेत हैं।महागौरी की आराधना से सोमचक्रजाग्रत होता है। इससे असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। समस्त पापों का नाश होता है। सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होती है। हर मनोकामना पूर्ण होती है।

कांग्रेस की स्टार प्रचारकों में यादव शामिल नहीं,बिना यादव समीकरण से क्या कांग्रेस जीत पाएगी उपचुनाव!

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *