प्रमुख विपक्षी दल राजद और कांग्रेस के बीच दूरी बढ़ती ही चली जा रही है। दोनों दलों के बीच खींचातानी जारी है। बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास रविवार को दिल्ली से पटना पहुंचे। पटना पहुंचे भक्त चरण दास ने राजद पर जमकर निशाना साधा और कहा की राजद ने बिहार में कांग्रेस के साथ किए गए गठबंधन का असम्मान किया है। गठबंधन सबको लेकर होता है और बिहार में कम्युनल फोर्सेज के खिलाफ गठबंधन हुआ था।

उन्होंने आगे राजद पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार में कांग्रेस सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है और अगर कुशेश्वरस्थान की सीट कांग्रेस जीतती है तो कांग्रेस के विधायक 19 से 20 होते। भक्त चरण दास ने कहा कि अगर बिहार में कांग्रेस मज़बूत होती है तो ऐसे में महागठबंधन मज़बूत होगा और यह मजबूती अंततः राजद को ही लाभ पहुंचाएगी। ॉ

कांग्रेस बिहार प्रभारी ने कहा कि बिहार प्रभारी बनने के बाद उन्होंने लालू प्रसाद यादव से कहा था कि बिहार में कांग्रेस अब मज़बूत स्थिति में आएगी लेकिन राष्ट्रीय जनता दल कांग्रेस को कमजोर करने में लगा हुआ है। भक्त चरण दास से राजद द्वारा पिछले विधानसभा चुनाव में 70 सीटें दिए जाने पर सवाल किया गया जिसपर उन्होंने कहा कि 70 सीटों पर चुनाव कांग्रेस जरूर लड़ी लेकिन इसमें 16 सीट ऐसी थी जिस पर कांग्रेस के पक्ष में राजद अपना वोट ट्रांसफर नहीं करवा सका।

वहीं 26 सीटों के बारे में भक्त चरण दास ने कहा कि इन सीटों पर कांग्रेस ने कभी चुनाव नहीं लड़ा था। बिहार प्रभारी ने कहा कि केवल बता देने से कुछ नहीं होता, आखिरकार समझौता भी कोई चीज होती है और राजद ने इसकी घोर उपेक्षा की है। भक्त चरण दास ने कहा कि अभी वह पटना में है और उम्मीद करते हैं कि राजद कुशेश्वर स्थान सीट से अपने उम्मीदवार का नाम वापस ले ले और अगर वह ऐसा नहीं करता है तब कांग्रेस अपने विधायकों और नेताओं के साथ बैठक कर महागठबंधन से अलग होने के बारे में भी फैसला ले सकती है। कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि बिहार प्रभारी बनने के बाद हम जिस विचारधारा के साथ जुड़े थे उस विचारधारा का राजद ने असम्मान किया है।

TEJ PRATAP को मिला BJP का समर्थन !

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *