पटना:- राजधानी पटना में जिम ट्रेनर विक्रम सिंह पर गोलीबारी मामले में पुलिस की छानबीन जारी है। पुलिस ने मामले में 3 युवकों को हिरासत में लिया है। पटना पुलिस कार्यालय में हिरासत में लिए गए युवकों से पुलिस पूछताछ कर रही है। आपको बता दे जिम ट्रेनर को गोली मारने के पीछे डॉक्टर राजीव कुमार और उनकी पत्नी की साजिश की बात सामने आ रही है। पुलिस इसी के आधार पर जांच भी कर रही है। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की थी, हालांकि अब पुलिस दोनों को छोड़ चुकी है।

पुलिस को शक है कि बिक्रम की हत्या करवाने के लिए सुपारी किलर्स की मदद ली गयी है। पटना पुलिस ने जब इसकी पड़ताल शुरू की, तो वजह बहुत चौंकाने वाली सामने आयी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार फिजियोथेरेपिस्ट की पत्नी खुशबू सिंह और जिम ट्रेनर के बीच बहुत अच्छी जान-पहचान थी। इस बात की जानकारी जब डॉ राजीव कुमार सिंह को हुई, तो उन्होंने बिक्रम को धमकी देनी शुरू की। इस वजह से खुशबू से बिक्रम दूरी बनाने लगे थे।

पुलिस ने जिम ट्रेनर के मोबाइल का जब कॉल डिटेल्स खंगाला, तो पता चला कि खुशबू और बिक्रम के बीच साढ़े आठ महीने में 1100 बार बातचीत हुई है । दोनों देर रात भी बात करते थे । 18 अप्रैल को डॉ राजीव ने भी बिक्रम से बातचीत की थी । संभवत: उसी दिन उन्होंने बिक्रम को धमकी दी थी।

दरअसल बिहार की राजधानी पटना में शनिवार को दिनदहाड़े अपराधियों ने जिम ट्रेनर को गोलियों से भून दिया था। गोली लगने के बाद विक्रम खुद से स्कूटी चलाकर अस्पताल पहुंच गया। सबसे पहले वह राजेंद्र नगर स्थित एक निजी अस्पताल में गया जहां उसे भर्ती करने से इनकार कर दिया गया। इसके बाद विक्रम ने हिम्मत दिखायी और खुद ही स्कूटी चलाते हुए पीएमसीएच चला गया। यहां आईसीयू में उसका ईलाज चल रहा है। कदमकुआं थाना इलाके में गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया गया था।

देखें बिहार-झारखंड समेत देश की तमाम खबरें देखें @4PM #DtvBharat

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *