मुजफ्फरपुर:- जिले में शराब माफिया पंचायत चुनाव के दौरान भी अपने धंधे से बाज आने को तैयार नहीं हैं। चुनाव में महंगी कीमत पर भारी मात्रा में शराब  बेचकर अच्छी कमाई करने के जुगत में लगे हैं । पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम लगातार करवाई कर रही है। लेकिन शराब की खेप मंगाने  और नकली शराब बनाने का सिलसिला खत्म नहीं हो रहा है। जिले के सकरा थाना इलाके से पुलिस ने सोमवार की रात  20 लाख मूल्य की शराब पकड़ी है। उसके साथ तीन धंधेबाजों को भी गिरफ्तार किया है। कार्रवाई के दौरान एक कार और ट्रक जब्त किया गया है। गिरफ्तार धंधेबाजों  से पुलिस पूछताछ कर रही है।

पशु चारा में छिपाकर रखे थे शराब

सकरा के थानेदार सरोज कुमार ने बताया कि पुलिस को थाना इलाके में शराब की खेप बनाए जाने की सूचना मिली। थाना से महज 1 किलोमीटर दूर स्थित एक खेत में स्थित झोपड़ी में मवेशी के खाने के लिए रखे गए भूसे के ढेर में शराब छुपाए होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने दल बल के साथ छापामारी कर दी। भूसा में छुपा कर रखे गए शराब के कार्टंस को पुलिस ने जब्त कर लिया उसी इलाके से एक ट्रक को भी पकड़ा गया जिस पर शराब लादकर लाई गई थी।  टीम को देखकर धंधेबाज कार से फरार हो गए।

कार खराब हो जाने से पकड़े गये फरार धंधेबाज

कार्रवाई के दौरान ही पुलिस को सूचना मिली कि चांदनी चौक के पास कार्टन लदी हुई एक कार खराब हो कर खड़ी है। लोगों ने उस में शराब होने की आशंका जताई। सकरा पुलिस मौके पर पहुंची और कार से उतर कर भाग रहे तीन लोगों को दबोच लिया। कार में  शराब के कर्टन्स लदे थे। शराब के कार्टन समेत कार को जब्त कर लिया गया है। पूछताछ में पता चला है कि पंचायत चुनाव के लिए शराब का स्टॉक किया जा रहा था। गिरोह का मुख्य सरगना अभी भी फरार है। जांच में उसके नाम की जानकारी मिल गई है। पुलिस उसकी तलाश में छापामारी कर रही है।

पूर्व MLC कृष्ण कुमार सिंह ने थामा राजद का दामन,तेजस्वी यादव ने दिलाई सदस्यता #DTV_BHARAT

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *